Blogging Kya Hai? ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाएं? 5 Best Tips to Start a Blogging

Blogging Kya Hai? ब्लॉगिंग क्या है? Blogging Kaise Kare? ब्लॉगिंग की शुरुआत कैसे करें? ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाएं? Blogging Se Paise Kaise Kamaye? ब्लॉगिंग क्या होती है? ब्लॉगिंग का मतलब? What is blogging in Hindi?

समय के साथ हमारे आसपास की चीजों में बदलाव होते रहते हैं, पिछले कुछ सालों में हुए किसी भी तरह के बदलावों में इंटरनेट की एक महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

इंटरनेट की मदद से घर बैठे पैसे कमाना आज के समय में सबसे ज्यादा ट्रेंडिंग में है, पैसे कमाने की यह नई तकनीकें लोगों के बीच बहुत पॉपुलर हो रही है।

वैसे तो आज के समय मे इंटरनेट की मदद से घर बैठे पैसे कमाने हजारों छोटे-बड़े तरीके मौजूद है, और उन्हीं में से एक तरीका है “ब्लॉगिंग” करना।

Hallo Friends, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर, आज हम बात करने जा रहे है, ब्लॉगिंग के बारे में, ब्लॉगिंग क्या है? (Blogging Kya Hai) ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाये जा सकते है? ब्लॉगिंग में एक करियर के रूप के क्या संभावनाएं है? और ब्लॉगिंग का भविष्य कैसा है? जानेंगे इन सारी बातों के बारे में, उम्मीद करता हूँ आपको यह पसंद आएगा।

Blogging Kya Hai
Blogging Kya Hai

Blogging Kya Hai? ब्लॉगिंग क्या है? –

इस टर्म को समझने से पहले हम ब्लॉग के बारे में समझते है, तो ब्लॉग इंटरनेट पर मौजूद एक वेबपेज का ग्रुप या समूह है, जिसको यूआरएल के द्वारा एक्सेस किया जा सकता है, यहाँ पर यूआरएल हर वेबपेज के लिए एक यूनीक अड्रेस होता है, जो इंटरनेट के माध्यम से उस पेज तक पहुँचने की सुविधा देता है।

ब्लॉग या वेबसाइट किसी व्यक्ति या कंपनी को इंटरनेट पर उसकी मौजूदगी कराता है, जब किसी कंपनी का कोई यूनीक अड्रेस होता है तो उसे साधारणतः “वेबसाइट” बोला जाता है।

लेकिन जब यही वेबसाइट कोई सामान्य व्यक्ति अपने नाम से या किसी नाम से वेबसाइट बनाकर उसपर रोजाना नई-नई चीजें अपलोड करता है तो उसे “ब्लॉग” कहते है।

ब्लॉग के माध्यम से रोज नई चीजें लोगों तक पहुंचाना ही “ब्लॉगिंग” (Blogging) कहलाता है और यह काम जो व्यक्ति करता है उसे “ब्लॉगर” (Blogger) कहा जाता है।

ब्लॉग की मदद से कोई भी व्यक्ति किसी भी जानकारी को पूरी दुनिया से शेयर कर सकता है और इस जानकारी के बदले पैसे भी कमा सकता है।

ब्लॉगिंग का मतलब कुछ इस तरह भी समझ सकते है कि इंटरनेट पर वेबसाइट बनाकर उसके माध्यम से लोंगों तक अपने अनुभव शेयर करना ही “ब्लॉगिंग” कहलाता है।

अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़े हर तरह के लोगों के लिए उनके अनुभव अलग-अलग हो सकते है, कोई व्यक्ति जिस फील्ड में काम कर रहा है उसके बारे में उसे गहरी जानकारी होती है जैसे- टेक्नोलॉजी, फूड, कुकिंग, फैशन, फोटोग्राफी, ट्रेवल, एडुकेशन इत्यादि।

ब्लॉगिंग (Blogging Kya Hai) एक ऐसी कला है जिसमें आप शब्दों के माध्यम से, अपने अनुभव को, अपने ब्लॉग के जरिये, अपनी बात लोगों तक पहुंचा सकते है और उनकी प्रॉब्लम को साल्व कर सकते है।

अभी जिस वेबसाइट पर आप यह आर्टिकल पढ़ रहे है, यह भी एक ब्लॉगिंग साइट ही है, जहां पर आप इंटरनेट, ब्लॉगिंग, पैसे कैसे कमाएं, फैशन, लाइफस्टाइल से जुड़ी चीजों के बारे में सीख सकते है।

आसान शब्दों में कहें तो ब्लॉगिंग एक ऐसी विधा है जहां पर आप अपनी बात लिखकर इंटरनेट के माध्यम से लोंगों तक पहुंचाते है।

आज के समय में वेबसाइट किसी कंपनी या व्यक्ति के इंटरनेट पर मौजूदगी का एहसास कराती है, यह न सिर्फ अपनी ऑडियंस से इंटरैक्ट करने में मदद करती है बल्कि कंपनी की सेल में इसका बहुत बड़ा योगदान होता है।

कई ऐसी बड़ी कंपनीया है जो वेबसाइट के माध्यम से ही चलती है, इसलिए अभी के समय में सभी तरह के बिजनेस को डिजिटली चलाने के लिए, एक ब्लॉग/वेबसाइट का होना जरूरी है।

ब्लॉगिंग क्यों करें? –

आप में से बहुत से लोग होंगे जिनके मन में ये सवाल जरूर आ रहा होगा, तो यदि आपके पास कोई ऐसी स्किल है जिसे दुनिया को दिखाना चाहते है, कोई ऐसी जानकारी जो लोगों के काम आये या कोई ऐसे चीज जिसे लोग सीख लेते है तो उन्हें फायदा हो सकता है।

इन सबके अलावा आप किसी काम से जुड़ा अपना अनुभव लोगों के साथ शेयर करना चाहते है, वे लोग जो रोज डायरी लिखते है, ये सारी चीजें ब्लॉग पर भी की जा सकती है और आम लोगों तक अपनी बात पहुंचाई जा सकती है।

यदि आप इसको शौक के तौर पर करना चाहते है तो भी कर सकते है, इससे पैसे कमाना चाहते है तो भी यह संभव है, जिसके बारे में हम आगे बात करेंगे।

ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाये?-

ब्लॉगिंग (Blogging Kya Hai) से पैसे कमाने के लिए सबसे पहले आपके पास खुद का एक ब्लॉग होना चाहिए, जब आप अपना ब्लॉग सेटअप कर लेते है फिर उसके बाद आर्टिकल (जिसे post भी कहते है) लिखना होता है।

जब आपके ब्लॉग पर लोग (Visitors) आने लगते हैं तो फिर कुछ समय बाद आप की कमाई शुरू हो जाती है।

जैसे-जैसे आपका ब्लॉग पॉपुलर होता है और लोग भी पढ़ने आते हैं और इसके साथ ही इनकम भी बढ़ती जाती है, एक बार जब आपका ब्लॉग पॉपुलर हो जाता है।

और जब ब्लॉग पर कुछ मात्र में यूजर्स आने लगते हैं तो फिर आप कई तरीकों से पैसे कमा सकते हैं, इन सभी तरीकों के बारे में हम आगे बात करेंगे।

Blog Kaise Banaye? ब्लॉग कैसे बनायें?-

ब्लॉग बनाने के लिए सबसे पहले आपके पास एक Domain Name और Hosting होनी चाहिए डोमेन नेम और होस्टिंग क्या होता है? इसके बारे में हमने डिटेल में एक आर्टिकल लिखा है जिसे आप पढ़ सकते हैं।

कम शब्दों में बताएं तो डोमेन नेम आपकी वेबसाईट का इंटरनेट पर एक युनीक अड्रेस होता है जिकसी मदद से यूजर ब्लॉग पर आते है, बिना किसी डोमेन नेम के किसी भी वेबसाईट कोई अस्तित्व नहीं है और उसे खोज पाना बहुत मुश्किल होत है।

होस्टिंग किसी भी ब्लॉग का वह महत्वपूर्ण हिसा है जहां पर वेबसाईट का सारा डेटा, स्टोर रहता है, जब कोई यूजर वेबसाईट पर आता है तो होस्टिंग से ही डेटा निकलकर इंटरनेट के माध्यम से यूजर के पास तक पहुंचता है।

किसी भी भी वेबसाइट में तीसरा सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है, सी.एम.एस. (Content Management System) इसकी मदद से हम जो कुछ भी अपने वेबसाईट पर दिखाना चाहते है, वह सी.एम.एस. के द्वारा ही संभव हो पाता है, कुछ पॉपुलर C.M.S. जैसे Blogger, WordPress, WIx, Custom CMS इत्यादि होते है।

आप चाहे तो कम पैसे में भी गूगल Blogger की मदद से अपना ब्लॉग सेटअप कर सकते हैं और पेड होस्टिंग की मदद से भी WordPress या Wix पर एक बेहतर ब्लॉग बना सकते हैं, इसमें इन सभी के अपने फायदे और नुकसान हैं।

आप जिस प्लेटफार्म की तरफ जाना चाहे जा सकते हैं यदि आपके पास ब्लॉग बनाने का कोई अनुभव नहीं है तो ब्लॉग भी आपको परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है।

धीरे-धीरे ही सही इन चीजों को लगातार सीखना होगा, तभी आप इस फील्ड में गलतियों को दोहराने से बच पाएंगे।

हालांकि एक ब्लॉग को सेटअप और बेहतरीन लुक देने के लिए थोड़ा समय और कई सारी सेटिंग्स करनी पड़ती है, इसके बारे में हम पूरे विस्तार से किसी और आर्टिकल में बात करेंगे।

Blogging Kya Hai
Blogging Kya Hai, Blogging Yatra Ko Shuru Karne Ke Liye Jaroori Steps

अपने ब्लॉग के लिए एक टॉपिक (Niche) को चुनें-

ब्लॉगिंग की भाषा मे किसी टॉपिक या विषय को निश (Niche) कहा जाता है, जैसे टेक्नॉलजी, फूड, कुकिंग, हेल्थ, लाइफस्टाइल, ट्रैवल, आर्ट & पेंटिंग, एजुकेशन, फैशन, पॉलिटिक्स, शेयर मार्केट इत्यादि।

वैसे तो आर्टिकल लिखने के लिए किसी भी एक टॉपिक या एक से अधिक टॉपिक्स पर लिख सकते हैं लेकिन जिस चीज के बारे में अच्छी तरह जानकारी है या उस चीज के बारे में लिखना पसंद है, उस पर लिखना ज्यादा बेहतर रहता है।

क्योंकि अपने पसंदीदा टॉपिक पर आप यूजर्स को बेहतरीन जानकारी दें पाएंगे साथ ही आपके पास लोगों को बताने के लिए भी बहुत कुछ (ज्ञान का एक भंडार) होगा और आप आर्टिकल लिखने से कभी बोरियत कभी महसूस नहीं करेंगे।

लोगों के लिए जितनी अच्छी और यूजफुल जानकारी अपने ब्लॉग के माध्यम से लोगों को दे पाएंगे उतने ज्यादा लोग आपके ब्लॉग से जुड़ते जाएंगे और संभावित फालोअर में बदलते जाएंगे।

आर्टिकल को लिखने के लिए एक भाषा का चुनाव करें –

अपने ब्लॉग के लिए आर्टिकल किसी भी भाषा में लिख सकते है, लेकिन यहाँ पर इस बात का ख्याल रखना है कि शुरुआत में आप जिस भहस में पोस्ट लिखने की शुरुआत कर रहे है आपको उसी भाषा में पोस्ट लिखना है।

इसलिए किसी भी भाषा में लिखने के लिए आप उसमें पूरी तरह कम्फर्टेबल हो ताकि कठिन से कठिन शब्दों और वाक्यों को भी आसानी से लिख सकें।

किसी दूसरे के काम को देखकर अपना निर्णय न बनाएं, क्योंकि दूसरे के काम को देखकर हमारे अंदर आने वाला मोटिवेशन कुछ ही समय तक रहता है।

भारत में भाषा की बात करे तो Hindi, English, Hinglish (yah kuchh is tarah se likha jata hai.) या फिर क्षेत्रीय भाषाएं जैसे तमिल, मराठी, पंजाबी, गुजराती में भी लिख सकते हैं।

वेबसाइट पर आने वाला ट्रैफिक कंटेन्ट के साथ-साथ उसकी भाषा पर भी काफी हद तक निर्भर करता है यदि आप क्षेत्रीय भाषा का यूज कर रहे हैं तो यह ध्यान दें उस स्थानीय भाषा (Regional Language) की उसी राज्य में ही ऑडियंस होती है।

जैसे यदि आप मराठी भाषा में लिख रहे हैं तो आपके ब्लॉग पर केवल वही लोग आ सकेंगे जो ‘मराठी’ भाषा को समझ सकते हैं, दूसरी भाषा को जानने वाले नहीं।

ब्लॉगिंग (Blogging Kya Hai) शुरू करने के लिए आप “हिंदी” या “English” में से किसी एक को चुन सकते हैं क्योंकि यह दो भाषाएं लगभग पूरे भारत में बोली और समझी जाती है इसलिए आप अपने कंटेंट को अधिक लोगों तक पहुंचा पाएंगे, कुछ राज्यों में हिंदी ज्यादा बेहतर समझी और बोली जाती है।

इसके अलावा अगर भारत के बाहर किसी भी देश में अपने ब्लॉग रैंक कराना चाहते हैं या ट्रैफिक लाना चाहते हैं तो “English” में ही ब्लॉग लिखें।

या फिर उस देश की भाषा में भी आर्टिकल लिख सकते हैं, इसके अलावा किसी कंट्री को टारगेट करने के लिए उस देश का Domain Extantion ले सकते हैं।

ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए?-

जब आपके ब्लॉग पर लोग पढ़ने के लिए आने लगते है तो आप इस ट्रैफिक से कई तरीकों से पैसे कमा सकते है।

ऐसे बहुत से तरीके है जिनकी मदद से आप अपने ब्लॉग को मोनिटाइज़ कर सकते है, लेकिन आज हम ऐसे कुछ तरीकों के आरे में बात करेंगे जिनका उपयोग आमतौर पर , लगभग सभी ब्लॉगगर्स करते है।

Advertizement विज्ञापन लगा कर –

विज्ञापन (Ad) की मदद से पैसा कमाना आज के समय में सबसे पॉपुलर तरीकों में से एक है, यह सबसे आसान तरीका है, अपने ब्लॉग से पैसे कमाने का।

वैसे तो कई brands है जो आपको ब्लॉग पर Ad लगाने के लिए सुविधा देते है, जैसे Media.net,Propular Ads,Chitica Ads, Infolinks इत्यादि लेकिन इनमें Google Adsense सबसे बेस्ट है।

Google Adsense और Media. net के लिए Ad अपने ब्लॉग पर लगाने के लिए पहले इसका अप्रूवल लेना पड़ता है जिसके बाद ही आप अपने ब्लॉग को मोनिटाइज़ कर पाएंगे।

Google Adsense और Media. net का अप्रूवल लेने के लिए अपने ब्लॉग को बनाते समय इसकी गाइडलाइंस का भी ध्यान रखना पड़ता है, जिसके बारे में हम किसी अन्य आर्टिकल में बात करेंगे।

यह आर्टिकल भी पढ़ें-

यूपीआई आइडी क्या होता है? 5 Tips To Safe Your Account

PM WANI योजना क्या है? इंटरनेट बेचकर पैसे कैसे कमाएं

What is blogging in Hindi? ब्लॉगिंग क्या है? ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाएं? Blogging Kya Hai? 5 Best Tips to Start a Blogging

पासवर्ड क्या होता है? अपने सोशल मीडिया अकाउंट को कैसे सुरक्षित रखें?

2. Affilate Marketing एफिलीएट मार्केटिंग –

ब्लॉग पर आने वाले ट्रैफिक की मदद से लोगों को कोई भी प्रोडक्ट को Recomend कर सकते हैं और जब आपकी सलाह पर कोई व्यक्ति आपके ब्लॉग के दिए गए लिंक से कोई सामान खरीदता है, तो बदले में आपको कुछ हिस्सा कमीशन के रूप में मिलता है, जिसे एफिलीएट इनकम कहा जाता है।

दूसरे शब्दों में कहें तो “अपने ब्लॉग पर किसी प्रोडक्ट का प्रमोशन करके सेल करना ही Affilate Marketing कहलाता है”

कई ऐसी कंपनियां है जो आपको इस काम के लिए हर सेल की हिसाब से कमीशन देती है, इसके लिए जिस प्रोडक्ट को सेल करना चाहते हैं उस प्रोडक्ट की Affilate लिंक को अपने ब्लॉग में Add करना होता है।

जब ब्लॉग पर आने वाला विज़िटर पोस्ट पर दिए गए लिंक पर क्लिक करके उस प्रोडक्ट को खरीद लेते हैं तो आपकी प्रोडक्ट/सेल के हिसाब से कमीशन मिलती है, किसी भी प्रोडक्ट की आफिलिएट लिंक अपने ब्लॉग पर लगाने के लिए आपको कंपनी के Affilate Program से जुड़ना होता है।

आज के समय मे Amazon Affilate Program सबसे पॉपुलर है, इसके अलावा और भी कंपनियां जैसे- , Meesho, Photoshop, Myntra, Snapdeal, Paytm Mall, Ajio, Tata Cliq, Click Bank, Commission Junction etc. प्रसिद्ध एफिलीएट प्रोग्राम है।

Blogging Kya Hai
Blogging Kya Hai, Blog se Paise kamane ke tarike in hindi

3. Sell Ad –

एक बार जब वेबसाइट पॉपुलर हो जाती है और आपके ब्लॉग पर आच्छा-खासा ट्रैफिक आने लगता है तो Ad Sell करके मोटा पैसा कमा सकते हैं इसके लिए कई बार कंपनियां डायरेक्ट आपसे संपर्क करती हैं लेकिन इस फीचर के लिए आपके ब्लॉग पर अच्छा-खासा ट्रैफिक होना चाहिए।

Ad Sell करने का मतलब यह है कि हर वेबसाइट पर पूरे वेबपेज को Header, Footer, Side bar, Content Area जैसे भागों में बंता गया है, जिसमें कोई न कोई कंटेन्ट दिखता है।

एडवर्टाइजर की तरफ से आपको इनमें से किसी भी जगह पर इमेज या Html File लगाने के लिए देती है, बस उसे उस प्लेस पर लगाना होता है और आपके साथ जितने दिन का कांटेक्ट (Embargo) होता है उतने समय तक लगा कर रखना होता है।

यह तरीका भी कुछ Adsense और Media.Net के जैसा ही है बस इसमें अंतर इतना है कि इसमें कंपनी डायरेक्ट आपसे संपर्क करती है, Ad Sell करके भी आप एडसेंस से ज्यादा पैसे कमा सकते है।

4. Selling Your Product-

वैसे तो ब्लॉगिंग (Blogging Kya Hai) में ऊपर के बाकी के तरीकों से पैसे कमाने की एक लिमिट होती है, लेकिन इससे भी ज्यादा कमाई करने के लिए एक सबसे अच्छा तरीका है, अपने द्वारा बनायेगए खुद के प्रोडक्ट को बेचना।

ब्लॉग के माध्यम से आप खुद के प्रोडक्ट भी सेल कर सकते हैं खुद के प्रोडक्ट सेल करके आप ऊपर के सभी मेथड की तुलना में काफी ज्यादा पैसा कमा सकते हैं और इस इनकम की कोई सीमा नहीं है।

यहां पर जितना भी प्रॉफिट होता है वह पूरा आपका होता है वेबसाइट के माध्यम से आप Ebook, Tshirt, Poster, digital Products, Video Course, Tools इत्यादि को आसानी से अच्छे प्रॉफिट मार्जिन पर सेल कर सकते हैं।

एक ब्लॉगर को ईन बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए –

1. अपने ब्लॉग पर आने वाले विजिटर को गलत जानकारी कभी ना दें, खासकर हेल्थ से जुड़ी चीजों के बारे में, किसी मेडिसिन से जुड़ी जानकारी देने से पहले आपको उसके बारे में प्रॉपर नॉलेज होनी चाहिए, ताकि किसी के स्वास्थ्य को आपके कारण नुकसान न पहुंचे।

गलतियाँ किसी से भी हो सकती है, लेकिन जानबूझकर गलत जानकारी देना सही नहीं है, यह आपके ब्लॉग को कुछ समय के लिए फायदा दे सकता है, लेकिन लंबे समय तक आप इससे नहीं इनकम कर पाएंगे।

2. लोगों के साथ स्पैमिंग कभी न करे, ऐसा करने से एक बार शॉर्ट टर्म में लोग आपके ऊपर विश्वास कर लेंगे कुछ समय बाद आपके ब्लॉग की वैल्यू ना के बराबर रह जाएगी।

3. किसी दूसरे ब्लॉग या वेबसाइट से कंटेंट कॉपी करके अपने ब्लॉग पर पब्लिश न करें ऐसा करना कॉपीराइट नियमों का उल्लंघन है आपके ब्लॉग पर पेनाल्टी भी लग सकती है।

हालांकि Fare Use Policy के तहत आप किसी दूसरे के कंटेंट को थोड़ा बहुत जानकारी देने के तहत अपनी वेबसाइट पर डाल सकते हैं लेकिन ऐसा करने के लिए भी कई सारे नियम है जिनके बारे में आपको जानना चाहिए।

A – बहुत ज्यादा टेक्स्ट कॉपी न करे, आप थोड़े बहुत पैराग्राफ या इमेज या कंटेन्ट के किसी हिस्से को ले सकते हैं, कॉपी करने का आपका उद्देश्य केवल जानकारी देने के लिए होना चाहिए ना किसी और कारण से।

B – जिस किसी भी वेबसाईट से आप उस कंटेंट को कॉपी कर रहे हैं उसको स्पष्ट रूप से बताना चाहिए और हो सके तो उसकी ओरिजिनल सोर्स का लिंक जरूर दे।

C – टेक्स्ट के रूप में आप जितने शब्दों या पैराग्राफ को कॉपी कर रहे हैं उसे कोट (Quote) अवश्य करें।

4. गूगल के नियमों को फॉलो करें उसे किसी भी हालत में बाइपास करने की कोशिश ना करें, एक बार यदि गूगल सर्च इंजन की नजर में आपके ब्लॉग की इमेज गिर जाती है तो फिर उसे फिर से ठीक करना बहुत मुश्किल है।

5. Copyright या किसी भी प्रकार के नियम का उल्लंघन करने पर आपका आर्टिकल या पूरा ब्लॉग ही डिलीट किया जा सकता है, इसलिए जितना बेहतर आप खुद को इस फील्ड में कर सकते है, करने की कोशिश कीजिए, ताकि जानबूझकर या अनजाने में आप कोई गलती न कर बैठें।

ब्लॉगिंग के लिए किन टूल्स की जरूरत पड़ती है?-

Computer/Laptop –

वैसे तो एक Blogger के लिए इतनी पावरफुल कंप्यूटर की आवश्यकता नहीं होती लेकिन हमारा लैपटॉप या कंप्युटर ऐसा होना चाहिए कि कभी-कभी हमें कुछ सॉफ्टवेयर रन करना हो तो वह भी आसानी से हो सके, ब्लॉगिंग करने के लिए आप अपनी मशीन में इन स्पेसिफिकेशन पर ध्यान दे सकते हैं-

यदि इंटेल प्रोसेसर की तरफ जा रहे हैं तो कम से कम i3 का प्रोसेसर जरूर लें यदि आपका बजट है तो इससे ऊपर जा सकते हैं, यह पूरी तरह आपके ऊपर निर्भर करता है।

इंटेल के हर प्रोसेसर में इसकी जनरेशन भी देखने को मिलती हैं कोशिश करें कि आप हायर जेनरेशन की तरफ जायें से अभी के समय में इंटेल के 12th जेनरेशन के प्रोसेसर देखने को मिलते हैं जो कि 10th जेनरेशन से काफी ज्यादा फास्ट है।

ऊपर बतायी गई ये चीजें हो सकता है कि आपको ब्लॉगिंग के लिए एक अच्छा लैपटॉप लेने में मदद करें, लेकिन शुरुआत में हो सकता है कि आपके पास इतने संसाधन न मौजूद हो कि एक अच्छा लैपटॉप ले सकें।

यदि आप एकदम नए है और कंप्यूटर के बारे में ज्यादा जानकारी नही है और बजट की कमी है तो सेकंड हैंड डिवाइस सही रहेगा क्योंकि शुरुआत में एक पॉवरफुल लैपटॉप की जरूरत नही होती साथ ही नए होने के कारण आप उस मशीन का पूरा उपयोग भी नही कर पाएंगे।

यदि बजट बिल्कुल ही कम है तो ऐसी स्थिति में सेकंड हैंड लैपटॉप/डेस्कटॉप की तरफ जा सकते है, लेकिन ऐसी चीज खरीदने से पहले उसके बारे में अच्छी तरह चेक कर ले कि आप उसे जिस काम के लिए ले रहे है वो अच्छे से हैंडल कर सके, पुराना कंप्युटर लेने से पहले किसी ऐसे व्यक्ति से जरूर सलाह लें जिसको इन चीजों के बारे में जानकारी हो।

वैसे भी ब्लॉगिंग के लिए आपको उतना पॉवरफुल मशीन की जरूरत नही पड़ेगी जितना कि किसी अन्य टूल को सीखने के लिए जरूरत पड़ती है।

एक कैरियर के रूप में ब्लॉगिंग में क्या संभावनाएं है?-

केवल ब्लॉगिंग ही नहीं किसी भी काम में सफल होना इस बात पर ज्यादा निर्भर करता है कि आप उसके बारे में कितना सीखते हैं एक बार आपका ब्लॉग सफल हो जाने के बाद यहां ना सिर्फ अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं बल्कि अपना फ्यूचर भी बना सकते हैं ।

इसके लिए निरंतर आपको सीखना पड़ेगा ताकि आप लोगों को सिखा सके यदि आप यह कर सकते हैं तो ब्लॉगिंग को Part time या फुल टाइम कैरियर के रूप में अपनाकर अच्छी खासी इनकम कर सकते हैं।

आने वाले समय में इससे बहुत संभावनाएं हैं क्योंकि लाखों लोग रोजाना इंटरनेट से जुड़ रहे है, ऐसे में उन्हें सही जानकारी या सर्विसेज़ देकर आप खुद के लिए एक अच्छा इनकम सोर्स बना सकते है।

लेकिन जितना यह सुनने और देखने में आसान लगता है… उतना आसान यह नहीं है, जिस तरह हम अन्य चीजों को पहले सीखते और समझते है फिर उसके बाद ही हमें जानकारी होती है कि वास्तव में चीजें कैसे काम करती है।

ब्लॉगिंग भी कुछ इसी तरह है इसे भी पहले आपको सीखना होगा, इसके लिए सबसे अच्छा माध्यम है यूट्यूब, आपकी सीखने की इच्छा ही ब्लॉगिंग में सफल बना सकती है और यह काम एक दो दिन या हफ्ते में नहीं होने वाला।

क्या स्मार्टफोन से ब्लॉगिंग की जा सकती है?

जी हाँ, यह संभव है लेकिन आप स्मार्टफोन से उतना अच्छा रिजल्ट नहीं ला पाएंगे, जितना कि एक कंप्युटर के द्वारा हो सकता है, बेहतर यही होगा कि आप इस कंप्युटर के द्वारा ही ब्लॉगिंग की शुरुआत करें, क्योंकि स्मार्टफोन से ब्लॉगिंग करने के फायदे कम नुकसान ज्यादा है।

ब्लॉगिंग क्या है और कैसे करते हैं?

ब्लॉग या वेबसाइट किसी व्यक्ति या कंपनी के इंटरनेट पर मौजूदगी कराता है, जब किसी कंपनी की कोई वेबसाईट होती है तो उसे साधारणतः वेबसाईट बोला जाता है।

मोबाइल पर ब्लॉग कैसे बनाये?

वैसे तो स्मार्टफोन की मदद से ब्लॉग बनाया जा सकता है, लेकिन आप उतना बेहतर तरीके से ब्लॉग को कस्टमाइज़ नहीं कर सकते है जितनी सुविधा कंप्युटर में मिलती है, इसलिए कोशिश करें कि ब्लॉग डिज़ाइनिंग का काम कंप्युटर पर कर लें।

यह आर्टिकल भी पढ़ें-

यूपीआई आइडी क्या होता है? 5 Tips To Safe Your Account

पासवर्ड क्या होता है? अपने सोशल मीडिया अकाउंट को कैसे सुरक्षित रखें?

PM WANI योजना क्या है? इंटरनेट बेचकर पैसे कैसे कमाएं

Summery Of The Article –

तो दोस्तों, ब्लॉगिंग क्या है? (Blogging Kya Hai?) या ब्लॉगिंग का मतलब क्या है? इसके बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं और यदि इस टॉपिक से जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो उसे नीचे कमेन्ट बॉक्स में लिखना न भूलें, इस आर्टिकल को लिखने में पूरी सावधानी रखी गयी है, फिर भी किसी प्रकार कि त्रुटि पाए जाने पर कृपया हमें जरूर बताएं।

ब्लॉग पर आने वाले नए पोस्ट कि नोटिफिकेशन अपने फोन में पाने के लिए, बेल आइकॉन को दबाकर नोटिफिकेशन को Allow करना न भूलें, साथ ही ऊपर दिए गए स्टार वाले आइकॉन पर क्लिक करके इस पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें, धन्यवाद 🙂

रोज कुछ नया सीखें, हमारे Instagram पेज को फॉलो करें –

5/5(5 votes)
Spread the love

A Student, Digital Content Creator, Passion in Photography... Founder of Tech Enter. यहाँ पर आपको, योजना, एजुकेशन, गैजेट्स रिव्यू, टेक्नॉलजी, क्रिप्टो, पैसे कमाने के तरीके, फैशन& लाइफस्टाइल तथा ढेर सारे टॉपिक्स से जुड़ी जानकारियां मिलती रहेंगी Follow Us » Facebook Instagram Twitter Quora

Leave a Comment