SSC CHSL Kya Hai, CHSL की पूरी जानकारी हिन्दी में, 3 Best Jobs in CHSL

SSC CHSL Kya Hai | SSC CHSL क्या है | एसएससी सी.एच.एस.एल क्या है? | SSC CHSL Syllabus in Hindi | SSC CHSL Post | SSC CHSL Details

वैसे तो गोवर्मेंट जॉब करने के लिए बहुत से रास्ते है लेकिन यदि आप ग्रेजुएशन से पहले, 12वीं के बाद ही करियर बनाना चाहते है तो इसका एक रास्ता SSC CHSL से होकर जाता है।

भारत में नेशनल लेवल पर कई सारी परीक्षाएं आयोजित कराई जाती है और SSC CHSL भी उनमें से एक है जो आपका गोवर्मेंट जॉब पाने का सपना पूरा कर सकता है।

Hello Friends, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम बात करने जा रहे है, एसएससी सी.एच.एस.एल. के बारे में… एसएससी सी.एच.एस.एल क्या है? (SSC CHSL Kya Hai), इसके अंतर्गत कौन सी जॉब्स आती है? CHSL की तैयारी कैसे करें? और साथ ही इसके सिलेबस और योग्यताओं के बारे में भी बात करेंगे, उम्मीद करता हूँ… इससे आपको कुछ न कुछ अवश्य सीखने को मिलेगा।

SSC CHSL Kya Hai
Thumbnail (SSC CHSL Kya Hai)

SSC CHSL Kya Hai –

SSC CHSL, कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा है , जिसके माध्यम से भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में, अलग-अलग पदों पर भर्ती की जाती है।

CHSL का फुल फॉर्म Combined Higher Secondary Level होता है, यह एक नेशनल लेवल पर आयोजित होने वाली परीक्षा जिसमें पूरे भारत से कोई भी व्यक्ति परीक्षा दे सकता है।

इस परीक्षा को देने के लिए न्यूनतम योग्यता 12th पास राखी गई है, कोई भी छात्र जिसने 12th पास कर लिया है या इस साल परीक्षा में बैठने वाला है वो इस परीक्षा में बैठ सकता है।

तो दोस्तों SSC CHSL Kya Hai इसके बारे में जानकारी आपको मिल गई होगी अब आगे अहम इससे जुड़ी अन्य चीजों के बारे में भी बात करेंगे।

CHSL के अंतर्गत कौन-कौन से पोस्ट आते है –

Combined Higher Secondary Level यानि CHSL के द्वारा भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में विभिन्न पदों पर, ‘डाटा एंट्री ऑपरेटर’ के रूप में नियुक्ति मिलती है।

अलग-अलग पदों के अनुसार परीक्षा के चरण भी अलग-अलग हो सकते है, साथ ही इसमें मिलने वाली सैलरी भी उसी हिसाब से दी जाती है।

SSC CHSL के माध्यम से Court Clerk, Lower Division Clerk (LDC)/Junior Secretariat Assistant (JSA), Postal Assistant (PA)/Sorting Assistant (SA), Data Entry Operator (DEO), Data Entry Operator, Grade ‘A’ इत्यादि, पदों पर नियुक्ति की जाती है।

CHSL के लिए आवश्यक योग्यताएं –

राष्ट्रीयता (Nationality) –

इस परीक्षा में बैठने के लिए आवेदक का भारत का स्थाई नागरिक होना अनिवार्य है, इसके अतिरिक्त अन्य देखों के वे नागरिक भी इस परीक्षा में बैठ सकते है, जो दिए गए निम्न शर्तों में से किसी एक को पूरा करते हों –

1. नेपाल का नागरिक हो (a subject of Nepal)

2. भूटान का नागरिक हो (a subject of Bhutan)

3. तिब्बत के रिफ़्यूजी जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में स्थाई रूप से बस्ने के इरादे असे आए थे।

4. भारतीय मूल के वे व्यक्ति जो पाकिस्तान, बर्मा, श्रीलंका, पूर्व के अफ्रीकी देशों केन्या, युगांडा, युनाइटेड रिपब्लिक ऑफ़ तंजानिया (पूर्व में तांगानिका और ज़ांज़ीबार), जाम्बिया, मलावी, ज़ैरे, इथियोपिया और वियतनाम जैसे देशों से भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से आए हों।

उपरोक्त श्रेणियों (1), (2), (3) और (4) से संबंधित उम्मीदवार वह व्यक्ति जिसके पक्ष में सरकार द्वारा पात्रता का प्रमाण पत्र जारी किया गया हो, प्रस्तुत करना अनिवार्य है।

(Provided that a candidate belonging to categories (1), (2), (3) and (4) above shall be a person in whose favor a certificate of eligibility has been issued by the Government of India.)

जिस किसी भी उम्मीदवार के मामले में पात्रता का प्रमाण पत्र जरूरी है, उसे प्रवेश दिया जा सकता है, परीक्षा लेकिन नियुक्ति आवश्यक डॉक्यूमेंट (जैसे – भारत सरकार द्वारा जारी पात्रता प्रमाण पत्र) को पूरा करने के बाद ही दिया जाएगा।

(A candidate in whose case a certificate of eligibility is necessary may be admitted to the Examination but the offer of appointment will be given only after, the necessary eligibility certificate has been issued to him/her by the Government of India.)

आयु सीमा (Age Limit) –

SSC CHSL की परीक्षा में बैठने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 18 वर्ष से 27 वर्ष के बीच होनी चाहिए, इसके साथ ही अभ्यर्थी के जन्म से संबंधित लिमिट के बारे में भी जानकारी दी गई होती है, जिसके अनुसार किसी भी अभ्यर्थी का जन्म दी गई दो जन्मतिथियों के बीच में ही होना चाहिए, जो कि आपको फॉर्म पर देखने को मिलेगी।

अलग-अलग वर्गों के अनुसार इसमें उम्र सीमा में छूट का भी प्रावधान है, जो कि कुछ इस प्रकार से है –

No.CategoryAge-relaxation
01.OBC3 Years
02.SC/ST5 Years
03.PwD (Unreserved)10 Years
04.PwD(OBC)13 Years
05.PwD(SC/ST)15 Years
06.Ex-Servicemen (ESM)03 years after deduction of the
military service rendered from
the actual age as of the closing date
of receipt of online application.
07.Defense Personnel are disabled in operation during hostilities with any foreign country or in a disturbed area and released as a consequence thereof.3 Years
08.Defense Personnel disabled in operation during
hostilities with any foreign country or in a disturbed area and released as a consequence thereof (SC/ST)
08 Years
09.Central Government Civilian Employees:
Who have rendered not less than 3 years regular and continuous service as on closing date for receipt of online applications.
Up to 40 years of age
10.Central Government Civilian Employees:
Who have rendered not less than 3 years regular and continuous service as on closing date for receipt of online applications (SC/ST).
Up to 45 years of age
11.Widows/ Divorced Women/ Women judicially
separated and who are not remarried.
Up to 35 years of age
13.Widows/ Divorced Women/ Women judicially
separated and who are not remarried (SC/ST).
Up to 40 years of age
SSC CHSL Kya Hai

ऊपर दी गई उम्र सीमाएं 2020 में जारी नोटिफिकेशन के अनुसार है,अलग-अलग वैकेंसीज में उम्र सीमा कुछ परिस्थितियों में अलग हो सकती है, इससे जुड़ी विस्तृत जानकारी के लिए फॉर्म अप्लाइ करते समय जरूर कन्फर्म करें।

शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualifications) –

CHSL के लिए मिनिमम क्वालिफ़िकेशन 12th पास रखी गई है, इसके पोस्ट के अनुसार शैक्षणिक योग्यताएं भी अलग-अलग है मांगी जाती है, अगर इसके लिए

1. LDC/ JSA, PA/ SA और DEO इत्यादि पदों के लिए, अभ्यर्थी का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड या संस्थान से 12th या इसके समकक्ष परीक्षा उतरीं करना अनिवार्य है।

2. डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO Grade ‘A’) तथा Office of Comptroller और Auditor General of India (C&AG) के पदों के लिए, 12वीं में विज्ञान वर्ग से गणित विषय के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है।

SSC CHSL Kya Hai
Exam Hall (SSC CHSL Kya Hai, SSC CHSL Kya Hai)

SSC CHSL की चयन प्रक्रिया –

CHSL की चयन प्रक्रिया तीन चरणों, कंप्युटर आधारित परीक्षा Tear-I, वर्णनात्मक परीक्षा Tear-II तथा टाइपिंग टेस्ट Tear-III के रूप में विभाजित है।

Tier-I (Computer Based Examination) –

प्रश्न-पत्रों में, जहाँ आवश्यक हो, बाट और मीट्रिक सिस्टम पद्धति (Metric systems of weights and measures) का प्रयोग किया जाएगा।

No.विषय (क्रम से नहीं)प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक समय (सभी के लिए )
1. English Language
(Basic Knowledge)
255060 मिनट तथा 80 मिनट शारीरिक अक्षम लोगों के लिए।
2. सामान्य बुद्धि परीक्षण (General Intelligence)2550
3. मात्रात्मक रूझान (Basic Arithmetic Skill)2550
4. सामान्य जागरूकता (General Awareness)2550

प्रश्न किस भाषा में होंगे ये सारी जानकारी फॉर्म भरने समय नोटफकैशन के माध्यम से आपको मिल जाएगी, 2020 में आई वैकेंसी के अनुसार कुछ इस तरह से नियम बनाए गए थे –

टियर- I परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रकार, बहुविकल्पी शामिल होंगे केवल प्रश्न पत्र के भाग II, भाग III और भाग IV के लिए प्रश्न अंग्रेजी और हिंदी दोनों में सेट किए जाएंगे।

Tear-I, SSC CHSL Syllabus in Hindi –

Tear-I कंप्युटर आधारित परीक्षा है, जिसमें अलग-अलग विषयों से कुल 100 प्रश्न पूछे जाते है, तथा इन प्रश्नों को हाल करने की समय सीमा 60 मिनट रखी गई है, तथा शारीरक रूप से अक्षम लोगों के लिए 80 मिनट निर्धारित की गई है (2020 के नोटिफ़िकेशन के अनुसार), ज्यादा जानने के लिए कृपया फॉर्म भरते समय नोटिफ़िकेशन देखें।

English Language –

Fill in the Blanks, Spot the Error, Conversion into Direct/ Indirect narration, Improvement of Sentences, Synonyms/ Homonyms, Antonyms, Spellings/ Detecting misspelled words, Idioms & Phrases, One-word substitution, Shuffling of Sentence parts, Active/ Passive Voice of Verbs, Cloze Passage, Comprehension Passage, Shuffling of Sentences in a passage. (SSC CHSL Kya Hai)

सामान्य बुद्धिमता –

इस सेक्शन में वर्बल तथा नॉन वर्बल दोनों तरह के प्रश्न पूछे जा सकते है, जनरल इंटेलिजेंस से ये सारे टॉपिक कवर किए जाते है –

सिमेंटिक सादृश्य, प्रतीकात्मक संचालन, प्रतीकात्मक / संख्या सादृश्य, रुझान, चित्र
सादृश्य, स्पेस ऑरिएन्टेशन, शब्दार्थ वर्गीकरण, वेन आरेख, प्रतीकात्मक/संख्या वर्गीकरण, आरेखण निष्कर्ष, चित्र वर्गीकरण, छिद्रित छेद/पैटर्न-फोल्डिंग और अनफोल्डिंग, सिमेंटिक सीरीज, फिगरल पैटर्न-फोल्डिंग और कंप्लीशन, नंबर सीरीज, एंबेडेड फिगर्स, इमोशनल इंटेलिजेंस, क्रिटिकल थिंकिंग, प्रॉब्लम सॉल्विंग, फिगरल सीरीज़, वर्ड बिल्डिंग, सोशल इंटेलिजेंस, कोडिंग और डी-कोडिंग तथा अन्य उप-विषय यदि कोई न्यूमेरिकल हो।

मात्रात्मक रूझान (Quantitative Aptitude)

संख्या पद्धति – संख्याओं के बीच संबंध, पूर्ण संख्या की गणना, दशमलव और भिन्न।

फंडामेंटल अंकगणितीय ऑपरेशन – परसेंटेज, रेश्यो एंड प्रपोर्शन, स्क्वायर रूट, औसत, साधारण ब्याज, चक्रवृद्धि ब्याज, लाभ और हानि, पार्टनरशिप बिजनेस, Mixture and
Allegation, समय और दूरी, कार्य और समय।

Algebra – स्कूल बीजगणित और प्राथमिक की मूल बीजगणितीय पहचान
surds (सरल समस्याएं) और रेखीय समीकरणों के रेखांकन। (Basic algebraic identities of School Algebra and Elementary -surds (simple problems) and Graphs of Linear Equations.)

ज्यामिति – प्राथमिक ज्यामितीय आकृतियों और तथ्यों से परिचित: त्रिभुज और उसके विभिन्न प्रकार के केंद्र, सर्वांगसमता और समानता त्रिभुज, वृत्त और उसकी जीवाएँ, स्पर्श रेखाएँ, दो या दो से अधिक वृत्तों की उभयनिष्ठ स्पर्श रेखाएँ, एक वृत्त की जीवाओं द्वारा अंतरित कोण।

क्षेत्रमिति – त्रिभुज, चतुर्भुज, नियमित बहुभुज (Regular Polygons), वृत्त, दायां प्रिज्म, दायां गोलाकार शंकु, दायां गोलाकार सिलेंडर, गोला, गोलार्द्ध, आयताकार समांतर चतुर्भुज, नियमित दायां पिरामिड के साथ त्रिकोणीय या चौकोर आधार (Regular Right Pyramid with triangular or square Base)।

त्रिकोणमिति – त्रिकोणमिति, त्रिकोणमितीय अनुपात, पूरक कोण, ऊँचाई और दूरियाँ (केवल साधारण समस्याएँ) मानक sin2θ + Cos2θ =1 जैसी पहचान आदि।

सांख्यिकीय चार्ट – तालिकाओं और ग्राफ़ का उपयोग, हिस्टोग्राम, आवृत्ति बहुभुज, बार-आरेख, पाई-चार्ट।

सामान्य जागरूकता –

प्रश्न उम्मीदवार के सामान्य ज्ञान का परीक्षण करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं
अपने आस-पास के वातावरण और समाज में इसके अनुप्रयोग के बारे में जागरूकता के बारे में जानकारी की परख की जाएगी।

इसके साथ ही प्रश्नों को करेंट अफेयर्स के ज्ञान का परीक्षण करने के लिए भी डिज़ाइन किया गया है, एक पढ़े लिखे व्यक्ति से इसके अवलोकन और वैज्ञानिक पहलुओं के अनुभव की परीक्षा ली जाएगी।

इसके अलावा भी सामान्य जागरूकता के प्रश्न पत्र में भारत और उसके पड़ोसी देशों से संबंधित विशेष रूप से इतिहास, संस्कृति, भूगोल, आर्थिक दृश्य, सामान्य नीति और वैज्ञानिक अनुसंधान से जुड़े प्रश्न भी शामिल किए जाएंगे। (SSC CHSL Kya Hai)

Tier-II (Descriptive Paper) –

Tier – II में पेन और पेपर के माध्यम से एक वर्णनात्मक परीक्षा ली जाएगी, इस वर्णनात्मक परीक्षा के लिए 1 घंटे (60 मिनट) की समय सीमा निर्धारित की गई है (शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए अतिरिक्त 20 दिए जाएंगे, इसके लिए कृपया फॉर्म भरते समय जानकारी पता करें), इस पेपर में writing Essay, Letter, Application, Precis, etc. टॉपिक से जुड़े प्रश्न शामिल किए जाएंगे।

Tier – II की इस परीक्षा में मिनिमम क्वालीफाइंग मार्क्स 33% होंगे।

प्रश्नों को या तो हिन्दी में या फिर इंग्लिश में हल करना होगा, एक भाग हिन्दी में और दूसरा भाग इंग्लिश में लिखने पर शून्य अंक दिए जाएंगे।

अभ्यर्थियों को उत्तर पुस्तिका के कवर पेज पर अपना सही रोल नंबर निर्धारित स्थानों पर पर अवश्य लिखें, साथ ही उत्तर पुस्तिका में संबंधित कॉलम में हस्ताक्षर और बाएं हाथ के अंगूठे का निशान भी लगाना होगा, बिना रोल नंबर, हस्ताक्षर और बाएं हाथ के अंगूठे के निशान वाले उत्तर पुस्तिका को शून्य अंक दिया जाएगा।

उत्तर पुस्तिका पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे नाम, मोबाईल नंबर, उत्तर पुस्तिका के अंदर कोई भी व्यक्तिगत जानकारी, यदि ऐसा करते है तो ऐसे अभ्यर्थियों को शून्य अंक दिए जाएंगे।

Tier-III (Skill Test/ Typing Test) –

Tier-II परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों के लिए स्किल टेस्ट/टाइपिंग टेस्ट, आयोग या इसकी अधिकृत एजेंसी द्वारा उपलब्ध कराए गए कंप्यूटर के माध्यम से परीक्षा केंद्रों पर आयोजित किया जाएगा।

सकिल टेस्ट की उन शहरों में आयोजित किए जाएंगे जहां आयोग के कार्यालय स्थित या क्षेत्रीय कार्यालय जो कर्मचारी चयन आयोग द्वारा तय किए गए है।

अभ्यर्थियों का यह स्किल टेस्ट / टाइपिंग टेस्ट क्वालिफाइंग प्रकृति होगा।

स्किल टेस्ट में त्रुटियों की गणना दशमलव के 2 स्थानों तक की जाएगी।

Skill Test for Data Entry Operator –

डाटा एंट्री ऑपरेटर की पोस्ट के लिए यह स्किल टेस्ट अनिवार्य है, किसी भी उम्मीदवार को इस परीक्षा में बैठने से छूट नहीं है।

डाटा एंट्री स्पीड 8,000 (आठ हजार) की-डिप्रेशन प्रति घंटा कंप्यूटर’ का निर्धारण दिए गए पैसेज के अनुसार वर्ड डिप्रेशन की सही प्रविष्टि के आधार पर किया जाएगा। परीक्षा की अवधि (पंद्रह) मिनट होगी और लगभग 2000 की-डिप्रेशन वाली अंग्रेजी में छपी सामग्री प्रत्येक उम्मीदवार को दी जाएगी जो इसे कंप्यूटर में दर्ज करेगा, कंप्यूटर में दर्ज किए जाने वाले पैसेज को कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित किया जाएगा।

भारत के कार्यालय नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (सी एंड एजी) में डाटा एंट्री ऑपरेटर ग्रेड ‘ए’ के ​​पद के लिए: ‘कंप्यूटर पर प्रति घंटे (पंद्रह हजार) की-डिप्रेशन की गति’ दिए गए पैसेज में शब्दों/कुंजी अवसादों की सही प्रविष्टि के आधार पर निर्णय लिया गया।

परीक्षा की अवधि अंग्रेजी में 15 (पंद्रह) मिनट की मुद्रित सामग्री होगी जिसमें लगभग 3700-4000 की-डिप्रेशन प्रत्येक उम्मीदवार को दी जाएगी जो एक ही कंप्यूटर में प्रवेश करेगा, कंप्यूटर में दर्ज किया जाने वाला पैसेज कंप्यूटर स्क्रीन पर डिस्प्ले भी हो सकता है।

शारीरक रूप से अक्षम पात्र उम्मीदवारों को 5 मिनट का प्रतिपूरक समय होगा, इसलिए उम्मीदवारों के लिए कौशल परीक्षा की अवधि 20 मिनट होगी।

Typing Test for LDC / JSA and Postal Assistant / Sorting Assistant –

टाइपिंग टेस्ट का माध्यम हिंदी या अंग्रेजी होगा, उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन पत्र में टाइपिंग टेस्ट (यानी हिंदी या अंग्रेजी) कमाध्यम का चयन करने वाले उम्मीदवारों की टाइपिंग गति 35 शब्द प्रति मिनट (w.p.m.) होनी चाहिए और हिंदी माध्यम चुनने वालों की टाइपिंग गति 30 शब्द प्रति मिनट (w.p.m.) होनी चाहिए, 35 शब्द प्रति मिनट और 30 शब्द प्रति मिनट प्रति घंटे लगभग 10500 की-डिप्रेशन और प्रति घंटे लगभग 9000 की-डिप्रेशन के अनुरूप हैं।

गति को, दिए गए टेक्स्ट पैसेज को 10 मिनट के अंदर कंप्यूटर पर टाइपिंग की सटीकता के आधार पर आंका जाएगा।

शारीरिक रूप से अक्षम, पात्र उम्मीदवारों को 5 मिनट का प्रतिपूरक समय दिया जाएगा, इसलिए ऐसे उम्मीदवारों के लिए टाइपिंग टेस्ट की अवधि 15 मिनट होगी। (SSC CHSL Kya Hai)

SSC CHSL क्या है?

SSC CHSL Kya Hai – SSC CHSL, कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा है , जिसके माध्यम से भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में, अलग-अलग पदों पर भर्ती की जाती है।

CHSL के अंतर्गत कौन-कौन से पोस्ट आते है –

Court Clerk, Lower Division Clerk (LDC)/Junior Secretariat Assistant (JSA), Postal Assistant (PA)/Sorting Assistant (SA), Data Entry Operator (DEO), Data Entry Operator, Grade ‘A’ इत्यादि।

CHSL के लिए आवश्यक योग्यताएं –

CHSL से जुड़ी पूरी जानकारी के लिए कृपया आर्टिकल पर जाएं –

शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को छूट मिलती है?

जी हां, CHSL की परीक्षा के सभी चरणों में शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए छूट का प्रावधान है।

CHSL का फुल फॉर्म क्या है?

CHSL का फुल फॉर्म Combined Higher Secondary Level होता है, यह एक नेशनल लेवल पर आयोजित होने वाली परीक्षा जिसमें पूरे भारत से कोई भी व्यक्ति परीक्षा दे सकता है।

यह आर्टिकल भी पढ़ें –

अग्निपथ योजना क्या है? अग्निपथ योजना भर्ती, ऑनलाइन आवेदन पूरी जानकारी

UPSC क्या है? यूपीएससी पोस्ट,सैलरी,योग्यता की पूरी जानकारी

SSB क्या है? एसएसबी इन्टरव्यू की पूरी जानकारी, 3rd Best Jobs for Paramilitary

SSC GD क्या है? एसएससी जीडी पोस्ट,योग्यता,सैलरी की पूरी जानकारी

Summery Of Article –

तो दोस्तों, एसएससी सी.एच.एस.एल क्या है? (SSC CHSL Kya Hai) इसके बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं और यदि इस टॉपिक से जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो उसे नीचे कमेन्ट बॉक्स में लिखना न भूलें, इस आर्टिकल को लिखने में पूरी सावधानी रखी गयी है, फिर भी किसी प्रकार की त्रुटि पाए जाने पर कृपया हमें जरूर बताएं।

ब्लॉग पर आने वाले नए पोस्ट कि नोटिफिकेशन अपने फोन में पाने के लिए, बेल आइकॉन को दबाकर नोटिफिकेशन को Allow करना न भूलें, साथ ही ऊपर दिए गए स्टार वाले आइकॉन पर क्लिक करके इस पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें, धन्यवाद 🙂

रोज कुछ नया सीखें, हमारे Instagram पेज को फॉलो करें –

5/5(1 vote)
Spread the love

A Student, Digital Content Creator, Passion in Photography... Founder of Tech Enter. यहाँ पर आपको, योजना, एजुकेशन, गैजेट्स रिव्यू, टेक्नॉलजी, क्रिप्टो, पैसे कमाने के तरीके, फैशन& लाइफस्टाइल तथा ढेर सारे टॉपिक्स से जुड़ी जानकारियां मिलती रहेंगी Follow Us » Facebook Instagram Twitter Quora

Leave a Comment