UPI ID Kya Hota Haiयूपीआई आइडी क्या होता है? 5 Tips To Safe Your UPI Account

UPI ID Kya Hota Hai, 7 सितंबर 2016 को जब केंद्र सरकार ने जब नोटबंदी की घोषणा की तो उससे पहले भारत की अधिकतर आबादी को स्मार्टफोन के माध्यम से पैसे भेजने (Online Money Transfer) के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी लेकिन जैसे ही नोटबंदी आई हमें न सिर्फ यह समझ आया कि पैसे के लेनदेन के एक नए तरीके को अपनाना होगा।

बल्कि हमें टेक्नॉलजी के हिसाब से नए जमाने के साथ चलना होगा और इसी आवश्यकता का आविष्कार है UPI, जिसने वास्तव में डिजिटल इंडिया के सपने को साकार किया है और कैशलेस इंडिया के लिए यह एक वरदान बनकर सामने आया है आज न सिर्फ बड़े शहरों बल्कि दूर दराज के गवों में भी मोबाईल के माध्यम से पैसे भेजना काफी आसान हो गया है।

UPI (UPI ID Kya Hota Hai) की मदद से किसी भी बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे भेज सकते है, यू पी आई आने के पहले किसी भी दूसरे व्यक्ति को पैसे भेजने के लिए रिसीवर का भी सेम वॉलेट अकाउंट होना जरूरी होता था।

लेकिन यू पी आई ने यह सारी बाधायें दूर कर दी है और केवल UPI id की मदद से किसी भी बैंक के अकाउंट में पैसे भेज सकते है, आज के समय में न सिर्फ बेहतर माध्यम है बल्कि इसके करोड़ों ट्रांजेक्शन रोजाना किये जाता है जो की कई देशों की जीडीपी से भी ज्यादा है।

Hallo Friends, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम बात करने जा रहे है, UPI के बारे में, UPI ID Kya Hota Hai? यूपीआई आइडी क्या होता है? , इसके क्या फायदे है, यू पी आई आइडी की मदद से पैसे कैसे भेजते है और यू पी आई की मदद से होने वाले फ्रॉड से कैसे बचें उम्मीद करता हूँ आपको यह पसंद आएगा।

UPI ID Kya Hota Hai? यूपीआई क्या है?

यू पी आई एक बहुत ही आसान बैंकिंग सिस्टम है जिसकी मदद से किसी भी व्यक्ति को पैसे भेज सकते है और किसी भी व्यक्ति से पैसे रिसीव भी कर सकते है, इसकी सबसे खास बात यह है कि यह यह एक वर्चुअल आइडी होती है जिसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपका अकाउंट किसी भी बैंक में हो और जिसको आप पे कर रहे हो उस पर्सन का किसी भी बैंक अकाउंट हो आप आसानी से पैसे भेज सकते है।

केवल एक वर्चुअल आइडी की मदद से, अब क्योंकि वर्चुअल आईडी होने की वजह से आपकी पर्सनल जानकारी किसी दूसरे के पास नहीं जाती है, इसलिए बिना किसी झिझक से अनलाइन शॉपिंग, बिल पेमेंट, जनरल किराना स्टोर, मूवी टिकट, मोबाईल रिचार्ज, टैक्सी का भाड़ा, airline ticket या कही भी पेमेंट करना हो बड़ी ही आसानी से कर सकते है।

यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) एक ऐसी प्रणाली है जो एक ही मोबाइल एप्लिकेशन (किसी भी भाग लेने वाले बैंक) के अंदर कई बैंक खातों को प्रयोग करने की सहूलियत प्रदान करता है, यह “पीयर टू पीयर” कलेक्शन रिक्वेस्ट को भी पूरा करता है जिसे शेड्यूल किया जा सकता है और आवश्यकता और सुविधा के अनुसार भुगतान किया जा सकता है।

UPI ID Kya Hota Hai

UPI का Full Form क्या होता है?

यूपीआई का फुल फॉर्म यूनीफाइड़ पेमेंट इन्टरफेस (Unified Payments Interface) होता है।

UPI ID Kya Hota Hai? यूपीआई आइडी क्या होता है?

जब भी आप किसी भी बैंक के, ऑफिसियल एप के माध्यम से आप खुद को यू पी आई के लिए रजिस्टर करते है तो रजिशट्रेशन होने के बाद आपको एक वर्चुअल आइडी मिलता है, जो कुछ इस तरह से दिखता है।

इसी आइडी के माध्यम से किसी को पेमेंट भेजने या रिसीव करने के टास्क किये जाते है।

यहाँ @ के बाद आप जो भी बैंक के साथ यूपीआई आइडी बनाते है उस बैंक या उसके पार्टनर बैंक का नाम होता है और इसे बदला नहीं जा सकता, @ के पहले आप कुछ भी नाम रख सकते है।

लेकिन आपको वही नाम रखने का ऑप्शन मिलेगा जो कि उपलब्ध हो यदि किसी ने पहले से ही उस नाम को ले लिया है आपको वह यूजर आइडी नहीं मिलेगा, यदि इसमें कोई परिवर्तन नहीं करते है डिफ़ॉल्ट रूप से आपके मोबाईल नंबर के साथ आइडी बन जाएगी।

जब भी आपको पेमेंट भेजना हो या रिसीव करना हो इसी आइडी के माध्यम से सारे काम किये जाते है, जब आप किसी को पेमेंट करते है या रिसीव करते है तो पैसे आपके बैंक मे अपडेट हो जाते है।

तो दोस्तों आपको यह मालूम हो गया होगया कि यूपीआई आइडी क्या होता है? (UPI ID Kya Hota Hai) आगे हम इससे जुड़ी और भी महत्वपूर्ण चीजों के बारे में बात करेंगे।

UPI पिन कैसे बनाये?

यूपीआई पिन बनाने के लिए आपके पास डेबिट कार्ड होना चाहिए, बिना डेबिट कार्ड के पिन नहीं बनाया जा सकता।

1- सबसे पहले किसी भी भीम यूपीआई इनेबल एप को फोन में इंस्टॉल करें।

2- एप को ओपन करें और सिम सिलेक्ट करें।

3- जिस बैंक में आपका अकाउंट है उस नंबर को सिलेक्ट करना जरूरी, SMS के जरिए मोबाईल नंबर वेरीफिकेशन होता है।

4- अब अपना बैंक सिलेक्ट करें।

5- UPI PIN के लिए अपने डेबिट कार्ड के लास्ट 6 डिजिट, CVV, और एक्सपायरी डेट, एप में भरें, इसके बाद एक OTP आएगा जिसे एप ऑटोमेटिक रूप से डिटेक्ट कर लेगा।

6- अब आप यहाँ पर अपना यूपीआई पिन सेट करेंगे और फिर दोबारा डालकर इसे कन्फर्म कर लें, यह पिन अलग-अलग बैंक के हिसाब से 4 या 6 अंकों का हो सकता है।

यदि आपको कोई समस्या हो रही हो तो इस विडिओ को देख कर सीख सकते है-

यूपीआई से पेमेंट कैसे करते है?

किसी भी व्यक्ति को पेमेंट करने के लिए आपको बस कुछ स्टेप्स को फॉलो करना होता है, इस पोस्ट में हम Paytm एप के बारे में बात करेंगे-

  • सबसे पहले अपने एप में लॉगिन करें/ यदि पहले से ही लॉगिन है तो फिर ठीक है।
  • फिर इसके बाद My Paytm सेक्शन में Patym Bank पर क्लिक करें( उह ध्यान दे अलग-अलग एप में अलग-अलग होता है)
  • इसके बाद अपने Paytm Payments Bank का पासवर्ड इंटर करें
  • आपके पेमेंट्स बैंक में जाने के बाद यहाँ ऊपर की तरफ दिए गए Money Transfer बटन पर क्लिक करें।
  • Enter UPI ID बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप जिसको भी पैसे भेजना चाहते है उस व्यक्ति का UPI ID (UPI ID Kya Hota Hai) भरें।
  • इसके बाद वह राशि डालें जो भेजना चाहते है।
  • यहाँ पर आप अपना UPI PIN डालें और उसके बाद सही वाले निशान पर क्लिक करें।
  • आपका पेमेंट सेंड हो जाएगा।
upi id kya hota hai

UPI Transition Limit, यूपीआई से कितना पैसा भेज सकते है?

यूपीआई (UPI ID Kya Hota Hai) की मदद से आप एक दिन में 1 लाख या 20 ट्रांजेक्शन कर सकते है मतलब, अधिकतम 1 लाख रुपये किसी को भेज सकते है चाहे वह एक ट्रांजेक्शन में हो या 20 ट्रांजेक्शन में किया गया हो और अधिकतम 20 ट्रांजेक्शन कर सकते है, भले ही आपने 10 रुपये, 100 रुपये या कोई भी अमाउन्ट का ट्रांजेक्शन किया हो।

यहाँ पर ध्यान दें कि यदि आपने एक लाख एक ही बार में भेज दिया तो अब आगे पैसे नहीं भेज पाएंगे क्योंकि आपकी एक लाख की सीमा पूरी हो गयी है, बाकी के 19 ट्रांजेक्शन की लिमिट भले ही पूरी न हो, कहने का मतलब यह है दोनों में से कोई भी लिमिट को पूरी करने के बाद आप पैसे नहीं भेज पाएंगे।

फिर से किसी को पैसे भेजने के लिए अगले दिन Payment कर सकते है।

UPI की शुरुआत कब हुई थी?

UPI (UPI ID Kya Hota Hai) की शुरुआत NCPI ने 21 सदस्य बैंकों के साथ एक पायलट लॉन्च किया, इस पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत 11 अप्रैल 2016 को मुंबई में आरबीआई के गवर्नर डॉ. रघुराम जी राजन, के द्वारा लॉन्च किया गया, इसके कुछ महीनों बाद 25 अगस्त 2016 से अपने UPI Enebaled एप्स को बैंकों ने प्ले स्टोर उपलब्ध करना शुरू कर दिया।

लॉन्च होने के बाद से, नवंबर 2021 के आकड़ों के अनुसार अब तक लगभग 282 बैंक यू पी आई से जुड़ चुके है, और यह संख्या धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है।

आपकी जानकारी के लिए बात दू कि, NCPI नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (National Payments Corporation of India) ने जो भारत में सभी बैंक के ATM और बैंक के ट्रांजेक्शन और बैंक के बेकच होने वाले ट्रांजेक्शन को मॉनिटर करता है, और ईन सभी ट्रांजेक्शन को मैनेज करता है।

लॉन्च होने के बाद से ही यह इतना हिट हुआ कि आज यह गोवर्मेंट से सबसे सफल इनिशिएटिव में से एक गिना जाता है, इसकी सफलता का अनुमान आप इसी से लगा सकते है कि पिछले साल नवंबर 2021 में 7,68,436.11 करोड़ रुपये के ट्रांजेक्शन हुए है जो कई देशों की जीडीपी से भी ज्यादा है।

यह आर्टिकल भी पढ़ें –

पासवर्ड क्या होता है? एक मजबूत पासवर्ड कैसे बनाते है?

ऑफलाइन पेमेंट क्या है? 5 Benefits Of Offline Payment | Offline Payment Kya Hai

अभी आप पढ़ रहे है- UPI ID Kya Hota Hai

Best MIUI 13 Themes Collection for MIUI 13 Devices [Updated]

फॉटोशॉप क्या होता है, फॉटोशॉप कैसे सीखे? बिल्कुल फ्री में

यूपीआई के फायदे-

1- UPI की मदद से स्मार्टफोन पर एप के माध्यम से 24*7 कभी भी पैसे तुरंत ट्रांसफर किये जा सकते है।

2- तेजी से पैसे ट्रांसफर होते है जहां बैंक कभी-कभी इसको प्रोसेस करने में 24 से 36 घंटे लेते थे और इस प्रोसेस में भी कुछ पैसे कट जाते थे, वहीं यू पी आई के आने के बाद पैसे आपके अकाउंट से एक सेकंड के भीतर ही रिसीवर के अकाउंट में पहुँच जाते है, इस सुविधा के बाद लोगों को पैसे भेजनने में आसानी तो हुई ही है साथ ही टाइम भी बचने लगा है जो की बैंकों में लाइन लगने में खत्म होता था।

3- केवल एक मोबाईल एप की मदद से एक से ज्यादा बैंकों के अकाउंट एड कर सकते है, इतना ही नहीं इसको आसानी से मैनेज करना भी आसान है, आप केवल एक सिंगल यू पी आई आइडी से एक से ज्यादा बैंक अकाउंट में फंड्ज रेकीवे के सकते है लेकिन एक समय में केवल एक ही बैंक अकाउंट के साथ ऐसा कर सकते है, साथ ही यह नियम पेमेंट भेजने के ऊपर भी लागू होता है।

4- Single Click 2 Factor Authentication – नियामक दिशानिर्देशों के साथ निर्बाध सिंगल क्लिक भुगतान करने की आजादी देता है, आपको पेमेंट करते समय रिसीवर के UPI (UPI ID Kya Hota Hai) अड्रेस डालने के पश्चात अपना खुद का सिक्युरिटी पिन डालना होता है उसके बाद, उसके बाद एक क्लिक में आसानी से पेमेंट रिसीवर के अकाउंट में ट्रांसफर हो जाता है।

5- कस्टमर की वर्चुअल पेमेंट आइडी कस्टमर को किसी भी प्रकार की अन्य डिटेल्स जैसे Card no, Account number; IFSC इत्यादि डालने की जरूरत नहीं होती है, जो कि किसी भी आम नागरिक के लिए बेहतर सुरक्षा प्रदान करती है।

6- QR Code के माध्यम से आसानी से पेमेंट किया जा सकता है, बिना किसी की यू पी आई आइडी डाले, यदि किसी को इसके बारे में थोड़ी बहुत भी जानकारी है तो इसे आसानी से यूज कर सकता है। इसके साथ ही Utility Bill Payments, Over the Counter Payments, QR Code (Scan and Pay) based payments कही भी आसानी से किये जा सकते है।

7- कैश ऑन डेलीवरी के लिए बहुत ही बेहतर माध्यम है, ATM या Debit Card से पेमेंट की तुलना में।

8- एक ही एप के साथ चाहे इंडिविजुअल हो या मर्चेन्ट किसी को भी राशि भेजी जा सकती है।

9- Donations लेना हो, Collections करना हो या बड़े स्केल पर पेमेंट करना हो, ये सारी चीजें आसानी से की जा सकती है।

10- चाहे मर्चेन्ट के तौर पर जुड़ना हो या व्यक्तिगत रूप से कस्टमर के तौर पर जुड़ना हो बिल्कुल आसानी से इसे लिया जा सकता है, आजकल कई सारे Bank और Payments Bank बिल्कुल फ्री में मर्चेन्ट की सदस्यता दे रहे है।

UPI ID कैसे बनाएं?-

UPI ID Kya Hota Hai इसके बारे में आपको जानकारी मिल गयी होगी, अलग-अलग बैंकों के लिए आइडी बनाने के लिए अलग-अलग प्रोसेस है जिसके बारे में पूरी जानकारी के लिए आप इस विडिओ को देख सकते है-

कृपया ध्यान दें जिस किसी भी एप में आप यूपीआई का प्रयोग करने के लिए बैंक को एड करते है तो उस एप और बैंक अकाउंट में एक ही मोबाईल नंबर होना चाहिए।

और जब भी आइडी बनते है तो सिक्युरिटी (और एक्टिवेट करने के लिए भी) के लिए आपका पहला यूपीआई मनी ट्रैन्स्फर 5000 रुपये से कम होना चाहिए और फिर 24 घंटे के बाद अकाउंट को fully activate कर दिया जाता है जिसके बाद आप अधिकतम एक लाख रुपये भेज सकते है जो कि इसकी अधिकतम लिमिट है।

यूपीआई के इकोसिस्टम के फायदे –

यू पी आई ने न सिर्फ आम जन के लिए क्रांति लेकर आया है बल्कि यह बैंक, मर्चेंट्स और ग्राहकों के बीच एक पारस्परिक संबंध बनाते हुए, वो सारी कमियों को दूर कर दी है जिसे कुछ साल पहले तक सभी परेशान होते थे और ईन तीनों के बीच एक इकोसिस्टम बनने के बाद न सिर्फ इसमें पारदर्शिता आई है, साथ लोगों का कीमती समय भी बचने लगा है।

नीचे इन सभी फ़ायदों के बारे में बताया गया है जो सभी के लिए बहुत समय बचाने वाला है-

Bank के लिए बेनीफिट्स –

1.Single click Two Factor authentication – सिंगल क्लिक टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन
2.Universal Application for transaction – यूनिवर्सल एप्लीकेशन फॉर ट्रांजेक्शन
3.Leveraging existing infrastructure – मौजूदा बुनियादी ढांचे का बेहतर लाभ
4.Safer, Secured and Innovative – बाकी के पेमेंट्स सिस्टम की तुलना में सुरक्षित, सुरक्षित और आसानी से प्रयोग करने लायक
5.Payment basis Single/ Unique Identifier – भुगतान के आधार पर एकल/ युनीक आइडेंटिफायर
6.,Enable seamless merchant transactions – निर्बाध व्यापारिक लेनदेन के लिए सक्षम

Merchant के लिए बेनीफिट्स-

1.Seamless fund collection from customers – single identifiers ग्राहकों से निर्बाध पेमेंट संग्रह – सींगल आइडेंटिफायर
2.Tap customers not having credit/debit cards – जिन ग्राहकों के पास क्रेडिट/डेबिट कार्ड नहीं हैं, उन्हें इस सिस्टम में आसानी से लाया जा सकता है
3.Suitable for e-Com & m-Com transaction – ई-कॉम और एम-कॉम लेनदेन के लिए उपयुक्त
4.Resolves the COD collection problem COD – संग्रह समस्या का समाधान
5.Single click Two Factor Authentication facility to the customer – seamless Pull ग्राहक को सिंगल क्लिक टू फैक्टर प्रमाणीकरण सुविधा
6.In-App Payments (IAP) – ईन एप पेमेंट्स

Customers के लिए फायदे-

1.Round the clock availability – पेमेंट के लिए चौबीसों घंटे उपलब्ध
2.Single Application for accessing different bank accounts – विभिन्न बैंक खातों को एक्सेस करने के लिए केवल एक एप
2.Use of Virtual ID (UPI ID) is more secure, no private data sharing – वर्चुअल आईडी का उपयोग अधिक सुरक्षित है, कोई क्रेडेंशियल जानकारी साझा नहीं करना पड़ता
3.Single click authentication – सिंगल क्लिक प्रमाणीकरण
4.Raise Complaint from Mobile App directly – कोई भी समस्या होने पर सीधे मोबाइल ऐप से शिकायत कर सकते है

UPI बाकी के पेमेंट सिस्टम से क्यों बेहतर है?

यूपीआई इमीडिएट पेमेंट सिस्टम (Immediate Payment Service system) पर कार्य करता है, इसके पहले यदि किसी भी व्यक्ति को पैसे भेजने के लिए Name, Bank Name, Account No. , IFSC Code जैसी ये सारी जानकारियाँ भरनी होती है, जिसमें काफी ज्यादा समय लगता है।

और ऐसे व्यक्ति को जिसको ईन सारी चीजों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है उसके लिए तो और बड़ी परेशानी का काम है।
इस प्रकार की सारी समस्याओं का हल है UPI इसके माध्यम से जिस किसी को भी पैसा भेजना होता है बस उसका यू पी आई आइडी पता होना चाहिए।

और फिर पेमेंट करते समय आइडी डालने के बाद अमाउन्ट चुनने के बाद पिन डालकर सबमिट करना होता है, इस प्रक्रिया में साधारण से तीन चरण, होते है जिसको कोई भी थोड़ी बहुत जानकारी रखने वाला व्यक्ति आसानी से कुछ ही देर में सीख सकता है।

यूपीआई (UPI ID Kya Hota Hai) में एक बार में अधिकतम एक लाख रुपये तक भेज सकते है और प्रति ट्रांजेक्शन पर 50 पैसे का चार्ज लिया जाता है।

Participants in UPI यूपीआई के सिस्टम में कौन से पार्ट है?

Payer PSP, Payee PSP
Remitter Bank – रेमीटर बैंक
Beneficiary Bank – बेनीफिसरी बैंक
NPCI – जो सारे पेमेंट्स को हैन्डल करता है।
Bank Account holders – बैंक खाता धारक
Merchants – मर्चेन्ट

UPI के अंतर्गत कितने बैंक रजिस्टर्ड है?

यू पी आई की शुरुआत 21 बैकों के पारस्परिक सहयोग से हुई थी लेकिन इसकी सफलता को देखते हुए, धीरे-धीरे इसके साथ औ भी बैंक जुडते चले गए और अभी के समय में (जनवरी 2022 तक) कुल 282 बैंक इसके साथ जुड़ चुके है और यह संख्या अभी भी बढ़ती जा रही है।

UPI से जुड़े बैंकों की लिस्ट-

नीचे यूपीआई के साथ जुड़े थर्ड पार्टी एप्स की लिस्ट दी गयी है जिसे आमतौर पर लोग यूज करते है , इस लिस्ट में इसके यूपीआई अड्रेस के साथ कौन से बैंक जुड़े उनके बारे में भी जानकारी दी गयी है।

समय के साथ इस लिस्ट में आने वाले समय में और बैंक भी हो सकते है यह लिस्ट, 5 जनवरी 2022 तक की मौजूद बैंकों की है।

Sr. No.TPAPPSP BanksHandle Name
1Amazon PayAxis Bank@apl
2Bajaj Finserv Direct LtdAxis Bank @abfspay
3ChintaMoneyKotak Mahindra Bank@kmbl
5CoinTabFederal Bank@fbl
6CRED Axis Bank @axisb
7FinShell PayHDFC@rmhdfcbank
8GoibiboICICI bank@icici
9Google PayICICI bank @icici
10Google Pay Axis Bank@okaxis
11Google Pay HDFC Bank@okhdfcbank
12Google Pay ICICI@okicici
13 Google Pay State Bank of India @oksbi
14Jupiter MoneyAxis Bank Limited@jupiteraxis
15JustDialHDFC Bank@hdfcbankjd
16Make My TripICICI@icici
17Mi PayICICI Bank@myicici
18MobiKwik?HDFC Bank@ikwik
19PhonepeYes Bank@ybl
20Phonepe ICICI Bank@ibl
21Phonepe Axis Bank@axl
22Samsung PayAxis Bank@pingpay
23TimepayThe Cosmos Co-Operative Bank Ltd.@timecosmos
24UltracashIDFC Bank@idfcbank
25WhatsAppICICI Bank@icici
26WhatsAppAxis Bank@wahdfcbank
27WhatsAppHDFC Bank@wahdfcbank
28WhatsAppState Bank of India@wasbi
29YuvaPayYes Bank@yesbank

यूपीआई अकाउंट को कैसे सुरक्षित रखें? –

  1. two factor authentication या two step verification को ऑन रखे, यह आपके अकाउंट में केवल OTP कि मदद से होने वाले लॉगिन को रोकता है, इसलिए यदि किसी कारणवश आपका पासवर्ड किसी को पता चल भी जाता है तो आपका अकाउंट सुरक्षित रहता है।
  2. अनजान लिंक्स पर न क्लिक करें, ऐसा करने से आपकी डिटेल्स हैकर तक चली जाती है जिससे बाद में आपको नुकसान हो सकता है।
  3. अक्सर लॉटरी, इनाम, योजना, KBC या आपका कार्ड ब्लॉक हो गया है ऐसी चीजें कहकर आपको फोन आता है तो इस बात कि 100 प्रतिशत गारंटी है कि आपसे फ्रॉड किया जाएगा, ऐसी कॉल से सावधान रहें, यह ध्यान रखें कि कभी भी बैंक की तरफ से आपको फोन पर जानकारी नहीं मांगी जाती है, कोई भी समस्या होने पर आपको बैंक कर्मचारी द्वारा फोन करके शाखा में ही बुलाया जाता है।
  4. कई बार फ्रॉड करने के लिए धोखेबाज आपको पेमेंट भेजने का नाटक करते है जबकि वह पेमेंट न होकर आपसे पेमेंट की रिक्वेस्ट होती है, जिसपर क्लिक करने के बाद आप जैसे ही पेमेंट करते है तो आपके अकाउंट में पैसे आने की बजाय आपके अकाउंट से पैसे कट जाते है।
  5. कोई अनजान आदमी आपको पैसे भेजने या लगता है की आपके साथ फ्रॉड कर सकता है तो उसके पेमेंट मैसेज को ध्यान से पढ़ें अक्सर वो आपको पेमेंट करने की बजाय पेमेंट की रिक्वेस्ट कर रहा होता है।

UPI ID Kya Hota Hai और अपने यूपीआई पेमेंट को कैसे सुरक्षित रखें इसके बारें में आपको जानकारी मिल गयी होगी।

यूपीआई (UPI ID Kya Hota Hai) पेमेंट से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल –

यदि पेमेंट करते समय हमारे बैंक से पैसे कट गए और रिसीवर के अकाउंट में नहीं गए तो क्या होगा?

ऐसी समस्या कभी-कभी टेक्निकल एरर या अन्य किसी वजह से आती है, तो परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है, आपके जो भी पैसे कटे है वह 72 घंटों के भीतर अकाउंट में वापस आ जाते है, ऐसा हमारे साथ भी हुआ है, इसलिए हम इस अनुभव के आधार पर यह कह सकते है कि आपका पैसा कहीं नहीं जाएगा, इसके लिए परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है।

ट्रांजैक्शन आईडी कैसे चेक करें?

आप जिस भी बैंक का एप यूज कर रहे है, सबसे पहले पेमेंट्स हिस्ट्री में जाएं और यहाँ पर सारे पेमेंट से जुड़ी डिटेल्स सामने आ जाएगी, जिस भी ट्रांजैक्शन के बारे में जानकारी चाहते है उस पर क्लिक करें और उससे जुड़ी जानकारी सामने या जाएगी, इसको चाहें तो शेयर कर सकते है, डाउनलोड कर सकते, स्क्रीनशॉट (कुछ एप इसको सपोर्ट नहीं करते जैसे Paytm) ले सकते है।

यह आर्टिकल भी पढ़ें –

पासवर्ड क्या होता है? एक मजबूत पासवर्ड कैसे बनाते है?

ऑफलाइन पेमेंट क्या है? 5 Benefits Of Offline Payment | Offline Payment Kya Hai

अभी आप पढ़ रहे है- UPI ID Kya Hota Hai

Best MIUI 13 Themes Collection for MIUI 13 Devices [Updated]

फॉटोशॉप क्या होता है, फॉटोशॉप कैसे सीखे? बिल्कुल फ्री में

ट्रांजैक्शन नंबर क्या होता है?

जब भी हम किसी को पेमेंट करते है तो हर लें दें का हिसाब रखने के लिए उसे ट्रांजेक्शन को एक युनीक नंबर दिया जाता है, जिसे ट्रांजेक्शन नंबर कहते है

कभी भी पेमेंट वेरीफाइ करने के लिए, पेमेंट से जुड़ी किसी समस्या के समाधान के लिए इस ट्रांजेक्शन नंबर की जरूरत पड़ती है, ट्रांजेक्शन नंबर के माध्यम से ही आपने पेमेंट कब की, किसको की, और कितने राशि का लेन -देन हुआ ये सब जानकारी इसके माध्यम से पता चल सकती है।

ट्रांजैक्शन का हिंदी अर्थ क्या है?

ट्रांजैक्शन का हिंदी अर्थ लेन-देन होता है, यह शब्द आमतौर हमें बैंकिंग से जुड़ी चीजों में देखने को मिलता है।

UPI ID Kya Hota Hai? यूपीआई आइडी क्या होता है?

यूपीआई आइडी एक वर्चुअल पेमेंट अड्रेस होता है, जिसकी मदद से चाहे किसी को पेमेंट भेजना हो या किसी से पेमेंट रिसीव करना हो ये सारे काम यूपीआई आइडी से किये जाते है, तो यूपीआई आइडी क्या होता है (upi id kya hota hai) आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे।

क्या यह जरूरी है कि हम अपने Bank का ही एप डाउनलोड करना पड़ेगा?

नहीं यह जरूरी नहीं है कि आप अपने बैंक का ही एप इस्तेमाल करें, BHIM UPI एप में या किसी भी यूपीआई को सपोर्ट करने वाले एप में अपने बैंक अकाउंट को जोड़ सकते है लेकिन इसके लिए, आप जिस एप में बैंक खाते को जोड़ रहे है सभी में एक ही मोबाईल नंबर होना चाहिए।

transaction pending दिखा रहा है तो इस स्थिति में क्या करें?

कभी-कभी किसी को पैसे भेजते समय यह सक्सेसफुल की बजाय Pending दिखाता है आप चिंता न करें यह बैंक के सर्वर से जुड़ी समस्या होती है, यदि यह लेन-देन नहीं हो पाता है तो काटे गए पैसे वापस अकाउंट में आ जाते है।

किसी भी प्रकार की समस्या होने पर शिकायत कहां करें?

आपको किसी भी प्रकार की समस्या होने पर हर एक में कस्टमर केयर से संपर्क करने का ऑप्शन रहता है, अप चाहे तो फोन, ईमेल या चैट के माध्यम से संपर्क कर सकते है।

यूपीआई पिन क्या होता है?

यूपीआई पिन 4 या 6 अंकों का एक कोड होता है जिसे यूजर को यूपीआई आइडी बनाते समय सेट करना होता है, तो जब भी कोई भुगतान करना होता है तो इसी पिन को डालने के पश्चात ही पेमेंट किया जा सकता है।

Summery –

तो दोस्तों, यूपीआई आइडी क्या होता है (UPI ID Kya Hota Hai), इसके बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा नीचे कमेन्ट बॉक्स में हमें जरूर बताएं, इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें लिखना न भूलें।

उम्मीद है इससे आपको कुछ सीखने को मिला होगा, इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें और ऊपर दिए गए स्टार वाले आइकान पर क्लिक करके इस आर्टिकल को स्टार रेटिंग देना न भूलें और ऐसी ही जानकारी रोजाना अपने फोन में पाने के लिए नोटिफिकेशन को Allow करना न भूलें, धन्यवाद 🙂

5/5(1 vote)
Spread the love

A Student, Digital Content Creator, Passion in Photography... Founder of Tech Enter. यहाँ पर आपको, योजना, एजुकेशन, गैजेट्स रिव्यू, टेक्नॉलजी, क्रिप्टो, पैसे कमाने के तरीके, फैशन& लाइफस्टाइल तथा ढेर सारे टॉपिक्स से जुड़ी जानकारियां मिलती रहेंगी Follow Us » Facebook Instagram Twitter Quora

Leave a Comment